ऋतुराज गायकवाड़ : किस्मत के धनी या काबिलियत की कहानी ?? Rituraj Gaikwad Biography (Hindi) 2022

क्रिकेटर ऋतुराज गायकवाड़
#क्रिकेटर #ऋतुराज-गायकवाड़
क्रिकेटर ऋतुराज गायकवाड़
#क्रिकेटर #ऋतुराज-गायकवाड़

ऋतुराज गायकवाड़ के बारे में कुछ दिलचस्प बाते पता लगी है सोचा आप लोगो के साथ शेयर कर ली जाये । तो यही सोच कर ये पोस्ट लिखी जा रही है । इस पोस्ट को आप ऋतुराज की जीवनी समझे सकते हो या फिर ऋतुराज के जीवन से प्रेरित होकर लिखा गया लेख भी समझ सकते हो ।

ऋतुराज गायकवाड़ के क्रिकेट करियर के बारे में पढ़ कर कुछ लोग कहते है की किस्मत अच्छी है, कुछ लोग कहते है की धोनी या चेन्नई की टीम ने ऋतुराज की जिंदगी बदल दी , तो कुछ लोग कहते है कि बन्दे में सच में दम है ।

चलो पहले क्रिकेट सफर देख लेते है ऋतुराज गायकवाड़ का फिर देख लेंगे कि पलड़ा किसका भारी है –

ऋतुराज गायकवाड़ का क्रिकेट करियर

जब ऋतुराज 5 साल के थे तब 2003 में पुणे में ऑस्ट्रेलिया वर्सेज न्यूज़ीलैण्ड के क्रिकेट मैच को देखते हुए ब्रेंडम मॅक्कुलम की बल्लेबाज़ी से प्रभावित होकर क्रिकेटर बनने का सपना संजोया ।

छोटी उम्र में ही लेदर की बॉल से खेलना स्टार्ट कर दिया । पर कहते है ना हीरे को भी जब तक तराशते नहीं है वो पत्थर ही रहता है । 11 साल की उम्र में पुणे वेंगसरकर क्रिकेट अकादमी ज्वाइन कर ली जहाँ से ऋतुराज को सही तरीके से क्रिकेट सिखाया गया ।

शुरू से ही मेहनती रहे ऋतुराज गायकवाड़ ने क्रिकेट में जी तोड़ म्हणत बचपन से ही शुरू कर दी थी और ऐसी कारन महाराष्ट्र की अंडर -14 और अंडर -16 टीम में चयन होने के बाद लगातार अच्छे खेल से अंडर -19 टीम में भी खेले ।

महाराष्ट्र के लिए अंडर -19 टीम में खेलते हुए कूच बिहार ट्रॉफी 2014-15 में 6 मैचों में 3 शतक और 1 अर्धशतक की बदौलत 826 रन बनाये ।

इसी के चलते उन्हें 2016 वर्ल्ड कप की भारत की अंडर -19 टीम में चुना गया । पर वर्ल्ड कप में ऋतुराज अच्छा खेल नहीं दिखा पाए और यहाँ ऋतुराज असफल रहे ।

पर इस असफलता से सीखते हुए ऋतुराज गायकवाड़ ने अगले साल फिर कूच बिहार ट्रॉफी में 7 मैचों में 4 शतक और 3 अर्धशतक के दम पर 875 रन बनाकर एक बार फिर सबका ध्यान अपनी तरफ खिंचा ।

यहाँ से महाराष्ट्र की टीम में रणजी और विजय हज़ारे में ऋतुराज के लिए रास्ता खुल गया पर सीजन 2017-18 में चोट की वजह से टीम से बाहर रहे । सीजन 2018-19 में रणजी ट्रॉफी में 11 मैचों में 456 और विजय हज़ारे में 365 रन बनाकर भारत-A में स्थान पा लिया ।

यहाँ भी लगातार अच्छा खेल दिखने के कारण आईपीएल सीजन 2019 के लिए चेन्नई की टीम ने ऋतुराज को उनके बेस प्राइस 20 लाख में ख़रीदा ।

ऋतुराज गायकवाड़ का आईपीएल में राज

आईपीएल सीजन 2019 में चेन्नई ने ऋतुराज को खरीद लिया था पर पुरे सीजन में ऋतुराज सिर्फ बड़े बड़े खिलाडियों के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करते रहे और उनके अनुभव के सानिध्य में सीखते रहे । 2019 आईपीएल में ऋतुराज को एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला फिर भी ऋतुराज ने चेन्नई के दिग्गज बल्लेबाज़ों , गेंदबाज़ो और कप्तान धोनी से प्रेशर सिचुएशन में नार्मल रहकर अपना ही खेल खेलते रहने के गुर जरूर सिख लिए ।

आईपीएल 2020 चेन्नई की टीम के लिए बहुत बुरा रहा और चेन्नई की टीम आठवे पायदान पर रही ।ऋतुराज को 2020 आईपीएल में शुरू में खेलने का मौका मिला पर 2 मैच में सिर्फ 5 रन बना सके और फिर उनको मौका तब मिला जब चेन्नई की टीम आईपीएल 2020 में प्ले ऑफ से बाहर हो गयी और अंतिम 4 मैच में ऋतुराज को ओपनर के तौर पर खिलाया गया और फिर जो हुआ उसको किस्मत कहो या मेहनत का फल या ऋतुराज की ज़िद्द । 3 मैच में ऋतुराज ने लगातार 3 फिफ्टी लगाकर रिकॉर्ड बनाया और चेन्नई के लिए अपने ओपनर की जगह पक्की कर ली ।

आईपीएल 2021 में ऋतुराज गायकवाड़ का जलवा पुरे सीजन रहा । ये सीजन 2 भाग में खेला गया , आधा भारत में और आधा सयुंक्त अरब अमीरात में खेला गया । पर दोनों ही जगह ऋतुराज गायकवाड़ ने जमकर रन बरसाए और इस आईपीएल सीजन के टॉप स्कोरर रहे । इस सीजन ऋतुराज ने 16 मैच में 45.35 की शानदार एवरेज से 635 रन बनाकर सबसे ज्यादा रन बना कर ऑरेंज कप अपने नाम की ।

आईपीएल में जहाँ इतने स्टार खिलाडी खेलते है , अंतरास्ट्रीय स्तर के इतने बड़े बड़े खिलाडिलयों के होते हुए ऑरेंज कप अपने नाम करने वाले ऋतुराज को किस्मत का धनी कहना गलत होगा , है ना ???5 साल की उम्र से क्रिकेट खेलने वाले खिलाडी की मेहनत, लगन और पसीने की कहानी है ये ऑरेंज कप ।

ऋतुराज ने खेल तो जबरदस्त दिखाया है पर भारत की टीम में स्थान पाना इतना भी आसान नहीं है और ऋतुराज ओपनर खेलते है जहाँ पर भारत की टीम में बिलकुल जगह नहीं है ।

रोहित शर्मा,शिखर धवन के अलावा लोकेश राहुल, शुभमन गिल, पृथ्वी शॉ, यशस्वील जैयस्वाल और देवदत्त पडीक्कल कुछ बहुत ही बेहतरीन खिलाडी है जो तीनो फॉर्मेट में ओपेनिंग करते है । अब देखना ये होगा की ऋतुराज इन खिलाडियों से प्रतिष्पर्धा करते हुए भारत की टीम में कैसे स्थान बनाते है ।

चलिए इन युवा खिलाडियों के तुलनात्मक आंकड़े देख लेते है – दिलचस्प रहेगा है ना ???

किसमें कितना है दम- ऋतुराज गायकवाड़ ,शुभमन गिल, पृथ्वी शॉ, यशस्वी जैयस्वाल और देवदत्त पडीक्कल

खिलाडियों का नाम ऋतुराज गायकवाड़ शुभमन गिल पृथ्वी शॉ यशस्वी जैयस्वाल देवदत्त पडीक्कल
Birth date31 जनवरी 19979 नवंबर 19998 अगस्त 199928 दिसंबर 20017 जुलाई 2000
Age2422221921
Bat Styleदाएं हाथ के बल्लेबाज़ दाएं हाथ के बल्लेबाज़दाएं हाथ के बल्लेबाज़बांयें हाथ के बल्लेबाज़बांयें हाथ के बल्लेबाज़
Batting Orderओपनरओपनरओपनरओपनरओपनर
IPL Teamचेन्नई सुपर किंग्सकोलकाता नाइट राइडर्सदिल्ली कैपिटल्सराजस्थान रॉयल्सरॉयल चैलेंजर बंगलौर
IPL Debut2020 vs RR2018 vs SRH2018 vs PBKS2020 vs CSK2020 vs SRH
Innings2258531329
Run83914171305289884
High Score101*769950101*
Average46.6131.4824.6222.2331.57
Strike Rate132.12123.00146.30136.32125.03
Fifty7101016
century10001

निष्कर्ष

आप ने ऋतुराज गायकवाड़ के आईपीएल के आंकड़े देखे और साथ में उनके अभी के समय के भारत के युवा खिलाडियों के आंकड़ों के साथ ऋतुराज गायकवाड़ के आंकड़ों को तुलनातमक रूप से देखा तो यहाँ से हम लोगो को एक बात तो बड़ी आसानी से समझ आ गयी है की चेन्नई के सुपरस्टार ऋतुराज में काबिलियत की कोई कमी नहीं है ।

तो ऋतुराज गायकवाड़ की मेहनत और संगर्ष की कहानी को किस्मत का धनी या महेंद्र सिंह धोनी की वजह से सफलता मिली है कह देना बहुत गलत होगा और नाइंसाफी होगी ऋतुराज की काबिलियत के साथ । इस पोस्ट से हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे है की ऋतुराज सच में काबिल खिलाडी है और वो न केवल चेन्नई बल्कि भारतीय टीम के लिए भी ढेरो रन बनाते नजर आयेगे ।

Ravi Bakolia

Hi... i m Ravi Bakolia here .. i have done graduation in IT stream ... i just love read and write about the things i passionate about ... cricket is my passion and happy to share amazing facts , things and stats about cricket. i m new in blogging field , need your love, support and blessing ...thanks..Lets catch it yaar

Leave a Reply